.

Sunday, January 2, 2022

नववर्ष की पूर्व संध्या मौके श्री खाटू धाम वैल्फेयर सोसायटी, खन्ना की ओर से एक शाम श्याम के नाम

 समराला रोड़ पर स्थित श्री




खाटू धाम में नववर्ष की पूर्व संध्या मौके श्री खाटू धाम वैल्फेयर सोसायटी, खन्ना की ओर से एक शाम श्याम के नाम भजन समारोह आयोजित किया जिसमें भारी संख्या में पहुंचे श्रदलुओं ने हाजिरी लगवाई। इस मौके खन्ना, लुधियाना के साथ साथ आसपास के इलाकों से भी श्रदलु पहुंचे ओर नववर्ष आगमन को लेकर प्रभु चरणों में वंदना कर हाजिरी लगाई।

               इस मौके भजन गायक नीरज वैध, रवि चंद्र तथा लुधियाना से विशेष रूप से पहुंचे श्री खाटू बाबा के लाड़ले भजन गायक हेमंत अग्रवाल ने बाबा की महिमा गाकर श्रदलुओं को झूमने पर विवश कर दिया। इस मौके श्रदलु मध्यरात्रि तक डटे रहे ओर श्री खाटू बाबा की महिमा का गुणगान किया। इस मौके श्री खाटू धाम वैलफेयर सोसायटी की ओर से प्रीतिभोज के साथ साथ समारोह के समापन मौके प्रसाद की भी व्यवस्था की गई। आयोजकों ने बताया कि संदीप कुमार के नेतृत्व में यह समारोह विशेष तौर पर खाटू बाबा के लाडले घनश्याम सिंह लोटे (लुधियाना वालों) के जन्मदिन के उपलक्ष्य में करवाया गया था। बतां दें कि खाटू श्याम प्रेमी घनश्याम सिंह लोटे की ओर से ही खन्ना में बने श्री खाटू धाम का शिलान्यास रखा गया था। समारोह में विशेष रूप से पहुचे घनश्याम लोटे को संस्था की ओर से सम्मानित किया गया।
               जानकारी देते हुए श्री खाटू धाम वैलफेयर सोसायईटी, खन्ना पदधिकारियों ने बताया कि श्री खाटू धाम खन्ना में प्रत्येक रविवार को सांय 4 बजे से लेकर 7 बजे तक संकीर्तन किया जाता है जिसमें अलग अलग भजन गायकों की ओर से भी खाटू धाम में हाजिरी लगवाई जाती है। इसी प्रकार प्रत्येक मंगलवार को भी सांय 7 बजे से लेकर 8 बजे तक हनुमान चालिसा का पाठ किया जाता है। जिसमें सैकडों श्रदालु पहुंचकर श्री खाटू श्याम बाबा की महिमा का गुणगाण करते हंै। श्री खाटू धाम में प्रत्येक माह की पहली ग्यारस/एकादशी को भी खाटू श्याम बाबा का संकीर्तन किया जाता है जो रात को 8 बजे से लेकर 11 बजे तक जारी रहता है। पदधिकारियों ने बताया कि पहली ग्यारस/एकादशी को श्री खाटू धाम में आयोजित होने वाले धार्मिक समारोह में विभिन्न प्रसिद् भजन गायक भी पहुंचते हैं ओर बाबा की महिमा का गुणगान करते हैं। संस्था पदाधिकारियों ने बताया कि श्री खाटू धाम में बाबा का रोजाना श्रृंगार किया जाता है जो देखने योग्य है। उन्होने इलाकावासी श्रदलुओं को श्री खाटू धाम में पहुंचकर हाजिरी लगवाने ओर बाबा का आर्शिवाद लेने की अपील भी की।