.

Thursday, April 9, 2020

कपड़ा और रेडीमेड व्यापारियों की करोना ( COVID-19 ) की वजह से बिगड़े हालात -विपिन चंद्र गेंद



खन्ना--डिस्ट्रिक्ट प्रेसिडेंट व्यापार सैल रूरल के अध्यक्ष श्री बीपन चंद्र गेंद जी ने बताया के जो करोना वायरस को लेकर 22 मार्च से लेकर 14 अप्रैल तक जो लोग डॉन सरकार की तरफ से लोगों की सेफ्टी को लेकर लगाया है । पर उसमें बिजनेसमैन और इंडस्ट्री लिस्ट और मिडिल क्लास के व्यापारियों के हालात बहुत बिगड़ रहे हैं क्योंकि छोटे दुकानदारों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पर कपड़े और रेडीमेड के व्यापारियों को दुश्वारियां झेलनी पड़ रही हैं। इन पर कपड़े के दुकानदारों ने अपनी दुकानें बंद कर रखी हैं । क्योंकि जान है तो जहान है को देखते हुए सरकार का हुक्म भी मान रहे हैं । श्री विपिन चंद्र गेंद जी ने बताया के कि हम दुकानदारों को काम कर रही लेबर को पूरी तनखा देनी पड़ रही है । बैंक को अगर लोन है तो किसते भी देनी है । सरकार ने 3 महीने का समय दिया है किसते देने को पर बैंक वाले किस्त पर ब्याज ऊपर लेट पेमेंट पर ब्याज 3 महीने का ब्याज चार्ज करेंगे । सेल्स टैक्स को रिटर्न पर पेनल्टी देनी होगी बिजली के बिल पर लेट पेमेंट पर चार्ज दे रहे हैं । लोक डॉन में सबसे ज्यादा नुकसान मिडिल क्लास शॉपकीपर का हो रहा है । रोजाना कमा कर जिन्होंने खाना है किसते भी देनी है और उस पर ब्याज भी देना है , मिडिल क्लास दुकानदार कहां से देंगे, श्री विपिन चंद्र गेंद जी ने के व्यापार सेल का अध्यक्ष होने के नाते सरकार से विनती करते हैं कि ब्याज और पैनल्टी को माफ किया जाए । ब्याज मुक्त किस्ते, ब्याज मुक्त इलेक्ट्रिसिटी बिल, रिटर्न इनकम टैक्स रिटर्न को ब्याज मुक्त किया जाए । आगे 2 महीने की पेमेंट देने की मोहलत दी जाए । अगर ऐसा ना हुआ तो दुकानदार भाइयों को अपने कारोबार को बंद करने पढ़ सकते हैं । जिसमें बेरोजगारी की समस्या बहुत ज्यादा बढ़ जाएगी * वायरस तो कंट्रोल हो जाएगा पर जो दुकानदार भाई इज्जत की आड़ में कारोबार कर रहे हैं वह भूख से मर जाएंगे । मेरी सरकार से दोबारा विनती है कि कृपया ब्याज मुक्त इलेक्ट्रिसिटी बिल फीस लोन की किस्तें और सेल टैक्स ,जी एस,टी रिटर्न इसकी पेनल्टी ना ली जाए ।